SUNRAYS BENEFITS सूर्य से ऊर्जा प्राप्त करने का सही तरीका क्या है?

Sunrays Benefits : ये तो हम सब जानते है कि सूर्य की किरणों पेड़ पौधों को ऊर्जा मिलती है। जिससे उन्हें जीवन मिलता है। उसी प्रकार सूर्य की किरणें हमारे शरीर को भी ऊर्जा देती है। यदि हम इन किरणों को सही समय पर, सही मात्रा में लेने लगें तो यह हमारे लिए कितनी लाभदायक होगी इसका अनुमान भी नही लगाया जा सकता है। आज हम आपको बताने जा रहे है कि सूर्य देव हमें वो सब कुछ देते है जो हमारे शरीर के लिए कितना आवश्यक होता है।

सूर्य की किरणों को सही तरीके से लेने से हम अपने शरीर मे होने वाली अनेकों बीमारियों को समाप्त कर सकते है। सूर्य देव हमे केवल शरीर से ही मज़बूती नही देते बल्कि वे हमारे मस्तिष्क को भी सुरक्षा प्रदान करते है। आज के समय में अधिकतर लोग दवाईयों पर अपना जीवन निर्भर किये हुए है। छोटी सी छोटी बीमारियों में लोग दवाइयां लेते है। परंतु यदि आप सही तरीके से सूर्य के संपर्क में आएंगे तो आपको जल्दी दवाइयों की तरफ देखना नही पड़ेगा।

आइये जानते है कुछ तरीके जिनसे आप अपने अंदर की छोटी से लेकर बड़ी बीमारियों को बिना दवाइयों के केवल सूर्य की किरणों से फ्री में ही ठीक कर सकते है।

यह भी पढ़ें :- ठण्ड के मौसम में त्वचा को रूखेपन से बचाने के लिए बॉडी लोशन की जगह इनका उपयोग करे।

सूर्य की किरणें हमारे शरीर के लिए क्यों आवश्यक हैं।

हमारा शरीर बिना सूर्य की किरणों के धीरे-धीरे बेजान होने लगेगा। सूर्य की किरणें हमारे शरीर की कोशिकाओं के लिए भोजन का कार्य करती है। लेकिन आजकल का वातावरण ऐसा हो चुका है कि बाहर प्रदूषण और कई प्रकार के वायरस होने के कारण हमें अपने सारे काम घर से ही करने पड़ रहे है। जिसके कारण हमें पर्याप्त मात्रा में सूर्य का प्रकाश नहीं मिल पा रहा है।

सूर्य का प्रकाश जब हमारे शरीर पर पड़ता है तो वह धीरे धीरे हमारे अंदर की बीमारियों को खत्म करने लगता है। अगर हम रोज़ाना कुछ समय के लिए धूप ले तो हमें बीमारियां नहीं होंगी। सूरज की धूप रोज़ाना सही समय पर लेने से सर्वाइकल, जोड़ों का दर्द, थायरॉइड, मधुमेह (डायबिटीज), हाई ब्लड प्रेशर, और त्वचा आदि से जुड़ी कई प्रकार की बीमारियां ठीक हो जाती है।

सूर्य से ऊर्जा पाने का सही तरीका

सूर्य से शक्ति पाने के लिए हमे अपना दैनिक नियम बनाना होगा। आप दिन के किसी भी समय धूप ले सकते है लेकिन सूर्य की किरणों से हमें लाभ तभी होगा जब हम इसे सही समय पर लेंगे। हमेशा सूर्योदय और सूर्यास्त के समय ही हमे सूर्य से वो शक्तियां मिलती है जो हमारे शरीर को स्वस्थ रखती है। हम सूर्य से दो प्रकार से शक्ति ले सकते है। जो इस प्रकार है।

सूर्य दर्शन ( SUN GAZING )

सूर्य से ऊर्जा पाने का पहला मुख्य तरीका सूर्य दर्शन है। सूर्य दर्शन का उचित समय होता है सूर्योदय और सूर्यास्त का। आप सुबह के समय सूर्योदय से एक घंटे या सूर्यास्त के एक घंटे पहले सूर्य दर्शन कर सकते है। ये समय सूर्य दर्शन के लिए सबसे उचित होता है। इस समय सूर्य से निकलने वाली किरणें आपकी आंखों से होकर सीधे मस्तिष्क में प्रवेश करती है। जिससे आपके मस्तिष्क को शक्ति मिलती है। ओर आपके दिमाग़ का विकास होता है। धीरे धीरे आपके सोचने की शक्ति बढ़ने लगती है। शुभ विचार आपके मन मे आते है। और आपके मन का शुद्धिकरण होता है।

यह भी पढ़ें :- दिमाग़ को स्वस्थ रखने व मेमोरी लॉस से बचने के लिए इन खाद्य पदार्थों का सेवन करें। 

Image Source: Shutterstock.com

सूर्य दर्शन (SUN GAZING) करने का एक और तरीका होता है। वैज्ञानिक दृष्टि से सूर्य देव को जल अर्पित करना भी एक प्रकार का Sun Gazing का भाग है। आप सुबह सूर्योदय के समय स्नान करके सूर्य देव को जल अर्पित करें, जिससे आपको सूर्य दर्शन में और भी अधिक लाभ होगा क्योंकि जब आप सूर्य को जल चढ़ाएंगे तो सूर्य की किरणें जल से होकर आपको मिलेंगी, जो आपको शीतलता प्रदान करेगी। सूर्य को जल चढ़ाते समय आपको गायत्री मंत्र का जाप करना चाहिए।

ॐ भूर्भुव: स्व: तत्सवितुर्वरेण्यं
भर्गो देवस्य धीमहि धियो यो न: प्रचोदयात्।। 

जिसका अर्थ होता है :- ” हे सृष्टि के प्रकाशमान परमात्मा हम आपके तेज़ का ध्यान करते है। आप हमारी बुद्धि में अपना तेज़ स्थापित करें और हमे सद्मार्ग की ओर चलने के लिए प्रेरित करे।

सूर्य स्नान ( SUN BATHING )

हमारे पुराणों और ग्रंथों में भी बताया गया है कि सूर्य देव किसी भी बीमारी को ठीक कर सकते हैं। सूर्य की किरणें एक प्रकार से हमारे शरीर मे एंटीसेप्टिक के रूप में कार्य करती हैं। प्राचीन समय में सूर्य स्नान द्वारा शरीर के घावों को भी ठीक किया जाता था। सूर्य की किरणें हमारे लिए औषधि हैं। परंतु इन्हें हमे किस प्रकार लेना है ये बहुत ज़रूरी है।

सूर्य स्नान (SUN BATHING) का अर्थ है कि हमें सूर्य की किरणों से स्नान करना। ये रोज़ाना 30 मिनट तक करना चाहिए। 15 मिनट अपने आगे के शरीर मे और 15 मिनट अपने पीछे के शरीर में। सूर्य स्नान करने के लिए किसी ऐसी जगह को चुने जहा सूर्य की किरणें सीधी आप पर पड़े जैसे: छत, बालकनी, पार्क, बीच (समुद्र का किनारा)।

ध्यान देने वाली बात यह है कि सूर्य स्नान हमेशा सुबह या शाम को करें न कि दोपहर में। सूर्य स्नान करते समय कम से कम कपड़े पहनें या फिर सफेद रंग का हल्का कपड़ा पहनें। सूर्य स्नान करते समय किसी प्रकार की सन क्रीम या बॉडी लोशन न लगाएं। सूर्य स्नान से हमारा शरीर अंदर से साफ होता है। इससे हमारे शरीर का रक्त प्रवाह ठीक प्रकार से संचालित होता है। इससे हमारी त्वचा साफ हो जाती है। सूर्य स्नान से सोरायसिस और एग्ज़ीमा जैसी बीमारियां भी ठीक हो जाती है।

आपको हमारी यह जानकारी कैसी लगी हमें कमेंट करके बताएं। इस पोस्ट को पूरा पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद।

One Comment on “SUNRAYS BENEFITS सूर्य से ऊर्जा प्राप्त करने का सही तरीका क्या है?”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *