Oral Cancer : मुँह के कैंसर की पहचान कैसे करें?

अशुद्ध खानपान, अत्यधिक धूम्रपान, गुटखा, तम्बाकू का सेवन लोगों में Oral Cancer (मुँह के कैंसर) को बढ़ावा दे रहा हैI मुँह के एक छोटे से छाले की अनदेखी से भी यह पनप सकता हैI आज के इस लेख में हम आपको कुछ ऐसे तरीके बताने जा रहे हैं जिससे आप अपने मुँह को कैंसर जैसी घातक बीमारी से बचा सकें या समय रहते इसे पहचान कर इसका इलाज़ करा सकेंI

Oral Cancer में मुँह के चिन्हों को देखें –

कैंसर की प्रारंभिक अवस्था में मुँह के आन्तरिक व बाह्य भाग में कुछ ऐसे चिन्ह दिखते हैं जिन्हें अगर आप अनदेखा करते हैं या इसका तुरंत उचित इलाज़ नहीं करते हैं तो आपके लिए यह जानलेवा साबित हो सकता हैI अतः अपने चिकित्सक से रेगुलर चेक अप करवाते रहेंI

1. रोज़ाना ठीक प्रकार से मंजन करने के बाद अपने मुँह को खोलकर दर्पण (शीशे) में ठीक से देखें यदि कहीं कोई चिन्ह दिखे तो उसे पहचाने कहीं यह कोई छाले तो नहीं हैI अगर किसी प्रकार का दर्द होता है तो तुरंत चेक अप करवाए और इसमें चिकित्सीय परामर्श अनुसार दवा लेंI

Oral Cancer Care
Image source: istock

2 अपने मसूड़ों, तालू, होंठों की भी जांच करें यदि किसी प्रकार का लालपन, सफेद पन, या सफ़ेद दाना बनता हुआ दिखे तो सावधान हो जाएँ और जल्द ही अपने चिकित्सक से मिलें और इलाज़ करवाए I

3. अपने चेहरे की भी जांच करें यदि किसी प्रकार का दाना या मवाद बनता हुआ दिखे तो सावधान हो जाएँ और जल्द ही अपने चिकित्सक से मिलें और इलाज़ करवाए I

4. रोजाना मंजन करने के बाद जीभ की भी जांच करें यदि जीभ पर आपके खाने की सफेदी जमी है तो इसे साफ़ करें अगर जीभ पर किसी प्रकार का घाव हुआ है तो जल्द ही अपने चिकित्सक से मिलें और इलाज़ करवाए I

Tongue clean for oral cancer care
Image Source: istock

5. दांतों की सफाई के साथ जीभ की सफाई भी अनिवार्य होती हैI नियमित रूप से जीभ की सफाई करें इससे आपके मुख से दुर्गन्ध नहीं आयेगी और किसी प्रकार की बीमारी भी नहीं होगीI

6. चेहरे के पिम्पल्स को भी अनदेखा न करें अगर पिम्पल्स ज्यादा समय तक आपके चेहरे पर रहते हैं या कोई दाना जो काफी समय तक बना रहे और ठीक न हो रहा हो तो इसका भी इलाज़ समय रहते करा लें क्या पता वह आगे चलकर गंभीर बीमारी का रूप ले लेI

face pimpples-min
Image Source: istock

7. चेहरे की त्वचा पर हुए फंगल इन्फेक्शन को भी अनदेखा न करें अगर यह ज्यादा समय तक रहता है तो इसका भी उचित इलाज करवाए और जल्द से जल्द इसे ठीक करेंI

यह भी पढ़ें:- Fungal Infection कभी नहीं होगा अगर इन बातों का रखेंगे ध्यान।

मुँह के छालों और घावों को देखें-

मुँह के छाले कैंसर का कारण बन सकते हैं। यदि मुँह में सफेद या लाल रंग के छाले हों और यह ठीक न हो रहे हों तो यह कैंसर का रूप ले सकता है। डॉक्टर्स इसे ल्यूकोपलाकिया बताते हैं।

मुंह में कई जगह सफेद रंग के छाले हो जाते हैं। इसके बाद यह अल्सर बन जाता है। अक्सर इसको डायग्नोस करने में गलती हो जाती है जिसके कारण यह मुंह में ही फैलने लगता है और धीरे धीरे कैंसर का रूप ले लेता है। अतः इसको अनदेखा न करें।

मुँह के अंदर गले के पास अगर आपको लाल रंग के छाले या घाव दिखाई देंते हैं तो यह बहुत ही ज्यादा घातक हो सकता है। इसे इरिथ्रोप्लाकिया (erythroplakia) कहा जाता है। इनके कैंसर में बदलने की ज्यादा संभावना होती है। इसका इलाज जल्द से जल्द करना चाहिए।

दर्द को अनदेखा न करें –

अगर आपको मंजन करते हुए किसी प्रकार का दर्द महसूस होता है तो इसे अनदेखा न करेंI अक्सर देखा गया है कि मुँह में होने वाला दर्द प्रायः कैविटी, अक्कल दाढ़ निकलने पर या टूटने के कारण होता है जिनसे कैंसर जैसी समस्या तो नहीं होती परन्तु हमें इसे अनदेखा नहीं करना चाहिए I

भोजन करते समय आने वाली समस्याओं को समझें –

चिकित्सक से मिलें और जाने –

यह भी पढ़ें:- त्वचा को रूखेपन से बचाना है तो इनका उपयोग करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *